SAWAN AAYA HAI Lyrics - ARIJIT SINGH Lyrics


Singer ARIJIT SINGH
Music TONY KAKKAR
Song Writer TONY KAKKAR
English

Mohabbat barsa dena tu, sawan aaya hai
Tere aur mere milne ka, mausam aaya hai

मोहब्बत बरसा देना तू सावन आया है
तेरे और मेरे मिलने का मौसम आया है


Sabse chhupa ke tujhe seene se lagaana hai
Pyar mein tere hadd se guzar jaana hai
Itna pyar kisi pe, pehli baar aaya hai

सबसे छुपा के तुझे सीने से लगाना है
प्यार में तेरे हद से गुज़र जाना है
इतना प्यार किसी पे पहली बार आया है

Mohabbat barsa dena tu, sawan aaya hai
Tere aur mere milne ka, mausam aaya hai

मोहब्बत बरसा देना तू सावन आया है
तेरे और मेरे मिलने का मौसम आया है

Kyun ek pal ki bhi judaai sahi jaaye na
Kyun har subah tu meri sanson me samaye na
Aaja na tu mere paas, dunga itna pyar main
Kitni raat guzaari hai, tere intezar mein

क्यों एक पल की भी जुदाई सही जाए ना
क्यों हर सुबह तू मेरी सांसों में समाये ना
आजा ना तू मेरे पास दूंगा इतना प्यार मैं
कितनी रात गुज़ारी है तेरे इंतज़ार में

Kaise bataaun jazbaat ye mere
Maine khud se bhi zyada tujhe chaaha hai
Sab kuch chhod ke aana tu, sawan aaya hai
Tere aur mere milne ka, mausam aaya hai

कैसे बताऊँ जज़्बात ये मेरे
मैंने ख़ुद से भी ज़्यादा तुझे चाहा है
सब कुछ छोड़ के आना तू सावन आया है
तेरे और मेरे मिलने का मौसम आया है


Sabse chhupa ke tujhe seene se lagaana hai
Pyar mein tere hadd se guzar jaana hai
Itna pyar kisi pe, pehli baar aaya hai

सबसे छुपा के तुझे सीने से लगाना है
प्यार में तेरे हद से गुज़र जाना है
इतना प्यार किसी पे पहली बार आया है

Bheege bheege tere lab,
mujhko kuch kehte hain
Dil hai khush mera ki khayal ek jaise hain :)
Roko na ab khudko yun sun lo dil ki baat ko
Dhal jaane do shaam aur aa jaane do raat ko
Kitna haseen ye lamha hai
Kismat se maine churaaya hai

भीगे भीगे तेरे लब मुझको कुछ कहते हैं
दिल है ख़ुश मेरा की ख्याल एक जैसे हैं
रोको ना अब खुदको यूँ सुन लो दिल की बात को
ढल जाने दो शाम और आ जाने दो रात को
कितना हसीं ये लम्हा है
किस्मत से मैंने चुराया है

Aaj ki raat na jaana tu, sawan aaya hai
Tere aur mere milne ka, mausam aaya hai

आज की रात ना जाना तू सावन आया है
तेरे और मेरे मिलने का मौसम आया है

Sabse chhupa ke tujhe seene se lagaana hai
Pyar main tere hadd se guzar jaana hai
Itna pyar kisi pe, pehli baar aaya hai


सबसे छुपा के तुझे सीने से लगाना है
प्यार में तेरे हद से गुज़र जाना है
इतना प्यार किसी पे पहली बार आया है


This post have 0 Comments


Next article Next Post
Previous article Previous Post